ई-मित्र संचालक अवैध वसूली करते हुए पकडे गए


क्षेत्रके गढ़ेपान में विकलांग रजिस्ट्रेशन अन्य सरकारी योजनाओं के रजिस्ट्रेशन के नाम पर लाभार्थियों से ई-मित्र केन्द्रों के द्वारा 100 से 150 तक अवैध वसूल किए जा रहे थे। शिकायत मिलने पर शुक्रवार को विकास अधिकारी जेपी मीणा द्वारा गढ़ेपान में ईमित्र केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया गया। जहां अनियमितताएं मिलने पर महावीर सुमन को ब्लैक लिस्टेड कर डिएक्टिवेट कर दिया गया। जबकि इस मामले में पूर्व में ईमित्र संचालकों का लिखित आदेश के द्वारा विशेष योग्य जन पंजीकरण नि:शुल्क करने के लिए निर्देश दिया गया था। ईमित्र केन्द्रों पर संचालकों द्वारा रेट लिस्ट भी नहीं लगा रखी थी। विकास अधिकारी मीणा ने सभी ईमित्र केन्द्र संचालकों को विशेष योग्य जन पंजीकरण नि:शुल्क करने के निर्देश दिए।

Post a Comment

Previous Post Next Post

POST ADS1

POST ADS 2