दबंगों के खौफ से खाली हुआ दलितों का पूरा गांव


अमर जीत यादव
बस्ती/संतकबीर नगर: धनघटा थाना क्षेत्र के छपरा मगर्वी में बालू खनन को जिला प्रशासन तथा भाजपा विधायक जय चौबे व छपरा मगर्वी के वर्तमान प्रधान गयासुदीन के साजिस से गलत तरीके से व गलत स्थान पर पट्टा कर दिया गया है। जिसे लेकर ग्रामीणो का काफी नुकसान होने की सम्भावना है। जिसके नाते ग्रामीण उक्त खनन का विरोध कर रहे थे।जिसको लेकर पट्टा धारक हरिशंकर यादव और भाजपा विधायक जय चौबे व ग्राम प्रधान गयासुद्दीन के साजिस से कुछ असामाजिक तत्व के आने के कारण ग्रामीणों से कुछ कहा सुनी व हल्का फुल्का झगड़ा झंझट हो गया।

जिससे कुछ लोगो के ऊपर गलत तरीके से मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।और गांव में पीएसी लगा कर महिलाओं के साथ बदसलुकी किया जा रहा है। जिससे गांव में इतना भय का महौल व्यापत हो गया है।जिससे गांव वाले घर छोड़कर भागने के लिए मजबूर हो गये है।जानवर व छोटे छोटे बच्चे खाने वैगर मर रहे है।और गांव में दलित के घर 9 जून को लड़के की शादी है जिसकों लेकर घर वाले परेशान है।घर वालों का कहना है कि शादी के लिए कुछ अभी खरीदा नही गया है।

और जिस लड़के की शादी है वह भी डर के मारे घर से भाग गया है।ऐसे में गांव के संजय व उनकी पत्नी व दादी को पुलिस जेल में बन्द कर दिया है।जिससे उनके दो बच्चे प्रीती व प्रीतम खाना खाने के लिए एक दूसरे का मुह देख रहे है।कुछ घरों में ताला बन्द है।ऐसे में गांव के कुछ बुजुर्ग महिलाओं ने बातया कि जिसको लेकर विरोध हुआ उसका कोई फर्क नही हुआ।और मुकदमा भी हुआ और खनन भी चालू हो गया है।हम ग्रामीणों का इस सरकार में कोई सुनवाई नही हो रहा है।क्यों कि हम सब दलित है।
Previous Post Next Post

POST ADS1

POST ADS 2