बिजनौर:-गांव में विकास कार्य न होंने से ग्रामीणों में रोष।


बाबू अन्सारी/राजू फईम:-बिजनौर

बिजनौर के दिल्ली पौड़ी हाइवे पर स्थित गांव झलरी प्रधान द्वारा कोई भी विकास कार्य न किये जाने से ग्रामीणों में खासी नाराज़गी व गुस्सा दिखाई दे रहा है। गाव में न तो पक्की सड़क है न ही लोगो के घरों में शौचालय है। इतना ही नही लोगो के घर भी टूटे फूटे पड़े है। और गंदगी का ये हाल की दो मिनट खड़े रहना मुश्किल हो जाता है। ग्रामीणों का आरोप है कि प्रधान और सेक्रेक्टरी ने ग्रामीणों से बीस बीस हज़ार रूपये लेकर रख लिए लेकिन अभी तक उनको घर नही मिल पाया जिसके चलते वह टूटे फूटे घरो में रहने को मजबूर है बल्कि जंगलो में शौच करना पड़ रहा है। गांव में नाला बनाने के नाम पर लाखों रूपये का घोटाला किया जा चुका है लेकिन नाला अभी तक पूरा नही बन सका जिस कारण कब्रिस्तान तक में कीचड़ व दीवार की नियो में पानी भरा हुआ है। गांव में गंदगी के कारण ग्रामीणों में तरह-तरह की जान लेवा बीमारियां भी पनप रही है।
ग्रामीणों का कहना है कि इस संबंध में वे कई बार ज़िलाधिकारी व मुख्यमंत्री को भी ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग कर चुके है । लेकिन प्रशासन की तरफ से भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी। प्राथमिक स्कूलो की खिड़कियां टूटी हुई व इमारत भी जर्जर हालत में है तथा किसी अनहोनी दुर्घटना को दावत दे रही है।

Previous Post Next Post

POST ADS1

POST ADS 2