कासगंज विधायक को मिला दस लाख रुपए फिरौती का धमकी भरा खत

कासगंज | उत्तर प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावो के प्रचार के दौरान पूरी बीजेपी पार्टी इस बात का प्रचार करने में लगी हुई थी अखिलेश राज में प्रदेश की कानून व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है. खुद प्रधानमन्त्री मोदी ने कई रैलियों में इस बात का जिक्र किया. उस समय कहा जाता था की प्रदेश में कानून का नही बदमाशो का राज चलता है. चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिलने के बाद लोगो को लगा की अब प्रदेश की कानून व्यवस्था ढर्रे पर आ जाएगी.

खुद योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद कहा था की प्रदेश में लॉ एंड आर्डर की स्थिति को सुधारना मेरी पहली प्राथमिकता है. लेकिन सरकार बनने के 100 दिन बाद तक भी प्रदेश की स्थिति में कोई सुधार नजर नही आया है. अलबत्ता कह सकते है की हालत बद से बदतर हुई है. इसका इससे बड़ा सबूत और क्या हो सकता है की अब बदमाश बेख़ौफ़ होकर विधायक से भी फिरौती की मांग कर रहे है.

उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले से बीजेपी विधायक देवेन्द्र सिंह राजपूत से बदमाशो ने 10 लाख रूपए की फिरौती की मांग की है. ऐसा न करने की सूरत में विधायक के परिवार को जान से मारने की भी धमकी दी गयी है. मामले की गंभीरता को देखते हुए विधायक ने एसपी से मामले की शिकायत की. एसपी ने कोतवाली पुलिस को मामला दर्ज कर जांच करने के आदेश दिए है.

दरअसल देवेन्द्र सिंह राजपूत से किसी ने ख़त के जरिये फिरौती की मांग की. ख़त में लिखा हुआ है की उनको 10 लाख रूपए पाकिस्तान भेजने है इसलिए 17 जून तक 10 लाख रूपए अलीगढ के छर्रा में पहुंचा दे. ख़त में यह भी लिखा गया है की अगर पैसे नही दिए तो उनके परिवार को जान से मार दिया जायेगा. पुलिस जांच में पता चला है की यह ख़त दिल्ली से पोस्ट किया गया है. इस पर दो शख्स नेत्रपाल और सफितुल्ला के नाम लिखे हुए है. पुलिस ने दोनों के ही नाम मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है.

Post a Comment

Previous Post Next Post

POST ADS1

POST ADS 2