बस्ती-कोटेदार की मनबड़ई कार्डधारकों को दूसरा जिला बताकर राशन का करता है कालाबाजारी नाराज ग्रामीण पहुंचे डीएम दफ्तर, लगाई न्याय की गुहार



अमर जीत यादव
बस्ती: विकासखंड कुदरहा क्षेत्र के चकिया टिकुईया गांव के कोटेदार की मनमानी से नाराज ग्रामीणों ने डीएम दफ्तर पहुंच कर नाराजगी जताई। ग्रामीणों का आरोप है कि कोटेदार कार्डधारकों को राशन नहीं दे रहा है पूर्व में ब्लॉक मुख्यालय पर  इसकी शिकायत  गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

गांव की आधा सैकड़ा महिलाएं और पुरुष न्याय की उम्मीद में शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पहुंची। इनका आरोप है कि खाद्य एवं रसद विभाग  द्वारा  खाद्यान्न की सप्लाई  विगत कई वर्षों से हो रही है।लेकिन कोटेदार के  मनमानी ढंग से और मनबढ़ई के कारण  अप्रैल माह  2017  से राशन  की सप्लाई देना यह कह कर बंद कर दिए की तुम लोग संतकबीरनगर में हो। इसलिए जिला बस्ती से तुम लोगों का खाद्यान्न की आपूर्ति  नहीं हो सकती है ।जबकि ऐसा नहीं है जिला संतकबीर नगर बनने से पहले व बनने के बाद भी बराबर सप्लाई  बस्ती जिला आपूर्ति विभाग द्वारा ही हो रही थी। लेकिन कोटेदार मनबढ़ किस्म का व्यक्ति है ।तथा अपराधिक किस्म का व्यक्ति के नाते उसके ऊपर अपराध के कई मुकदमे  न्यायालय में लंबित हैं।और अराजक तत्वों की गोल है  जिससे कई महीने का राशन  बिना वितरण किए ही  डीपो पर ही बिक्री कर देता है ।और जब कार्डधारक राशन लेने के लिये कोटेदार के पास जाते हैं, तो उन्हें खाली हाथ वापस कर दिया जाता है।

राशन वितरण का दबाव बनाने पर कार्डधारकों से अभद्र व्यवहार किया जाता है। ग्रामीणों ने कहा कि इससे पहले भी कई बार  शिकायत की गई थी। तब जांच में आरोप सही मिले थे, लेकिन विभागीय सांठगांठ के कारण कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। ब्रह्मदीन,रामदेव, ओम प्रकाश, प्रहलाद, संतराम, राम सावर,कोदई,चौलई,बुझावन, राजकुमार,श्रीराम,रामफेर, काशीराम, सुमित्रा,राम उजागिर, बाबूराम,रामहित,सुमिरन,मोल्हू, लीलावती आदि ने डीएम से मामले की जांच करा कर ग्राम पंचायत चकिया के कोटेदार साधू शरन यादव निवासी ग्राम पंडोहिया विकासखंड कुदरहा जिला बस्ती के उपरोक्त विवरण व कर्मों के आधार पर कोटे को निलंबित किया जाना चाहिए और अपराधिकृत की जांच कर दंडात्मक करवाई किया जाना तथा कोटे को संभ्रांत व सम्मानित कोटे से अटैच कर हम ग्रामवासी को राशन का वितरण कराने की मांग की।
Previous Post Next Post

POST ADS1

POST ADS 2