भाजपा नेता ने महिला डिप्टी एसपी से की बदसुलूकी



लखनऊ। प्रदेश के बुलंदशहर जनपद में वाहन चेकिंग के दौरान महिला डिप्टी एसपी श्रेष्ठा सिंह द्वारा वाहन का कागजात मांगने पर भाजपा नेता ने बदसुलूकी की।
बताते हैं कि वाहन सवार व्यक्ति अपने को जिला पंचायत सदस्य व भाजपा नेता बता रहा था। उसने ड्यूटी के दौरान महिला डिप्टी एसपी से कागजात दिखाने के नाम पर गाली गलौज करते हुए उनकी वर्दी भी खींचने लगा। इस अप्रत्याशित घटनाक्रम से स्तब्ध डिप्टी एसपी के साथ पुलिस जवानों ने उसे धर दबोचा जिससे आक्रोशित भाजपाइयों ने पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए एसएसपी पर दबाव बनाने लगे।
फिलहाल जिले के आलाधिकारी पूरे मामले की जांच में जुट गये हैं।
अब सवाल उठता है कि जहाँ प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ पूरे प्रशासनिक तंत्र को पटरी पर लाना छह चाह रहे हैं वहीँ उनके ही पार्टी के कार्यकर्ता पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को यह बताने में कत्तई गुरेज नहीं कर रहे हैं कि हम भी पूर्व सपा सरकार में सपा के गुंडों की तरह ही प्रशासनिक अधिकारियों से वैसा ही बर्ताव करेंगे।

इस पोरे मामले को लेकर प्रबुद्धजनों का मानना है कि समय रहते प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ यदि प्रदेश स्तर पर एक कमेटी बनाकर विभिन्न जनपदों में सरकार की छवि ख़राब करने में जुटे तथा कथित भाजपाइयों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कठोर कार्यवाही नहीं करते हैं तो आने वाले समय में जो आरोप सपा पर लगते थे कि सपा गुंडों की पार्टी है वह आरोप भाजपा पर भी लगना तय है। 
Previous Post Next Post